Nipah Virus In Kerala Explained: कितना घातक है निपाह वायरस और केरल से इसका क्या संबंध है? 2023

केरल में निपाह वायरस ने दो लोगों को मार डाला है।

ऐसे में प्रश्न उठता है कि निपाह वायरस आखिर कितना घातक है

एक्सपर्ट से इन सवालों के जवाब जानें।

दो लोगों की संक्रमण से मौत के बाद केरल सरकर अलर्ट हो गया है

राज्य से चार अन्य लोगों को पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में सैम्पल जांच के लिए भेजा गया है।

यह वायरस जानवरों से इंसानों में फैलता है।

लोगों के संक्रमण के बाद इस पर अध्ययन शुरू हुआ

इसका नाम गांव पर रखा गया।

यह सिर्फ इंसान नहीं बल्कि पालतू जानवरों जैसे कुत्ते, बिल्ली, बकरी और घोड़े में भी देखा गया था।

जब हम निपाह वायरस के मामलों को देखेंगे तो पता चलेगा कि सबसे अधिक मामले केरल में हुए हैं।

इस चमगादड़ को फ्रूट बैट कहते हैं क्योंकि यह ताड़ी को खाने के लिए फलों का रस चूसता है।

चमगादड़ का मल-मूत्र भी निपाह वायरस को इंसानों तक पहुंचा सकता है।